May 29, 2024

अदरक – 20+ Adrak Khane Ke Fayde जानकर हो जायेंगे आश्चर्यचकित

अदरक हम सबके घरो में आम तौर पर मिल जाता है किन्तु क्या आप Adrak Khane Ke Fayde के बारे में जानते हैं।जब यह पक कर सूख जाता है, तब सौंठ कहलाता है । अदरक और सौंठ के गुण लगभग समान हैं, परंतु सौंठ की अपेक्षा अदरक अधिक सौम्य होता है ।

इसको जमीन में गाड़ देने और उस जमीन को पानी डालकर गीली रखने से लंबे समय तक अदरक ताजा ही बना रहता है । नींबू का रस और नमक के साथ अदरक का सेवन करने से मुख शुद्ध होता है और इसमें अनेको औषधि गुण पाये जाते है। वर्षा और ठंड की ऋतु में इसका सेवन विशेष मात्रा में रसस्राव उत्पन्न करता है ।

अनेक रोगो में अदरक खाने के फायदे (Ginger Benefits)-

नीचे Video देखें :

1. दस्त –

आधा कप उबलते हुए पानी में 1 चम्मच अदरक का रस मिला लें और इसे जितना गर्म पी सकते हो, उतना गरम पी लें । इस प्रयोग को प्रत्येक 1 – 1 घंटे के अन्तराल से करते रहने से पानी की भाँति पतले दस्तों का कष्ट दूर हो जाता है।

2. गठिया –

10 ग्राम सौंठ 100 ग्राम पानी में उबालकर ठंडा होने पर शहद या शक्कर मिलाकर सेवन करने से गठिया रोग दूर हो जाता है ।

3. जोड़ो का दर्द –

1 चम्मच सौंठ और आधा टुकड़ा जायफल लें । इन दोनों को पीसकर तिल के तेल में मिलाकर इसमें कपड़ा भिगोकर जोड़ों पर पट्टी बाँधने से जोड़ों के दर्द में आराम हो जाता है ।

4. वात दर्द, कमर दर्द तथा जाँघ दर्द –

1 चम्मच अदरक के रस में आधा चम्मच घी मिलाकर सेवन करने से लाभ होता है ।

अदरक खाने के फायदे और नुकसान

5. पसली दर्द –

30 ग्राम सौंठ को आधा किलो पानी में उबालकर और छानकर यह 4 बार पीने से पसली का दर्द जाता रहता है ।

6. मासिक धर्म दर्द से होना –

इस कष्ट में सौंठ और पुराने गुड़ का काढ़ा बनाकर पीना लाभकारी है । शीतल पेय व खट्टी चीजों से परहेज रखें ।

See also  सूखा धनिया और हरा धनिया के लाभ - 30+ Dhaniya Khane Ke Fayde

7. कान का दर्द –

सर्दी लग जाने या मैल जम जाने, चोट लगने अथवा फुंसी निकलने के कारण यदि कान में दर्द हो तो अदरक के रस को कपड़े में छानकर गुनगुना करके कान में 3 – 4 बूँद डालने से कान का दर्द दूर हो जाता है । दर्द रहने पर थोड़ी देर बाद यह प्रयोग फिर से किया जा सकता है ।

8. प्रदर –

10 ग्राम सौंठ 250 ग्राम जल में डालकर उबालें । जब चौथाई शेष रह जाए तो शीशी में छानकर रखलें । इसे 3 सप्ताह तक पीएँ ।

9. मुँह में दुर्गन्ध –

1 चम्मच अदरक का रस 1 गिलास गर्म पानी में मिलाकर कुल्लियाँ करने से मुँह की दुर्गंध दूर हो जाती है ।

क्या आप जानते है पुदीना खाने से कौन सी बीमारियों में लाभ होता है।

10. लकवा –

उड़द की दाल पीसकर घी में सेकें फिर उसमें गुड़ और सौंठ पीसकर मिलाकर लड्डू बनाकर रखलें । 1 लड्डू प्रतिदिन खाएँ या सौंठ और उड़द उबालकर इनका पानी पीने से भी लकवा ठीक हो जाता है।

Adrak Khane Ke Fayde

11. हाथ – पैर सुन्न हो जाना –

सौंठ और लहसुन की 1 – 1 गाँठ पानी डालकर पीसलें तथा प्रभावित अंग पर इसका लेप करें । प्रात:काल बिना कुछ खाए – पीए जरा – सी सौंठ और लहसुन की 2 कली प्रतिदिन 10 दिनों तक चबाएँ ।

12. मसूढ़े फूलना –

मसूढ़े फूल जाएँ तो 3 ग्राम सौंठ को दिन में 1 बार पानी के साथ फाँकें । इससे दाँत का दर्द ठीक होगा । यदि दाँत में दर्द सर्दी से हो तो अदरक पर नमक डालकर पीड़ित दाँतो के नीचे रखें ।

13. जुकाम –

सौंठ और गुड़ पानी में डालकर उबाल लें । जब चौथाई रह जाए तब सुहाता – सुहाता छानकर पी जाएँ। गले में ठंडक और खराश होने पर अदरक चूसें ।

See also  मेथी - Methi Dana Khane Ke Fayde

14. खाँसी –

अदरक का रस और शहद 30 – 30 ग्राम हल्का गर्म करके प्रतिदिन 3 बार 10 दिनों तक सेवन करें । दमा – खाँसी के लिए यह परमोपयोगी है । यदि गला बैठ जाए, जुकाम हो जाए तब भी यह योग लाभकारी सिद्ध होता है । दही, खटाई आदि का परहेज रखें ।

15. ज्वर –

बुखार तेज होने पर अदरक का रस और शहद 6 – 6 ग्राम की मात्रा में मिलाकर चाटने से लाभ होता है ।

16. आधे सिर का दर्द, गर्दन का दर्द, माँसपेशियों का दर्द –

यदि इन कष्टों में अपच, पेट की गड़बड़ी से उत्पन्न हुए हों तो सौंठ को पीसकर उसमें थोड़ा – सा पानी डालकर लुग्दी बनाकर तथा हल्का सा गर्म करके पीड़ित स्थान पर लेप करें । इस प्रयोग से आरंभ में हल्की – सी जलन प्रतीत होगी, बाद में दर्द शीघ्र ही ठीक हो जाएगा । यदि जुकाम से सिरदर्द हो तो सौंठ को गर्म पानी में पीसकर लेप करें । पिसी हुई सौंठ को सूँघने से छींके के आकर भी सिरदर्द दूर हो जाता है ।

Adrak Khane Ke Fayde

17. पेट दर्द –

पिसी हुई सौंठ 1 ग्राम और जरा – सी हींग और सैंधानमक की फंकी गर्म पानी से लेने से पेट दर्द ठीक हो जाता है । 1 चम्मच पिसी हुई सौंठ और सेंधा नमक 1 गिलास पानी में गर्म करके पीने से पेट दर्द, कब्ज, अपच ठीक हो जाते हैं ।

18. अपच –

ताजे अदरक का रस, नींबू का रस और सैंधानमक मिलाकर भोजन में पहले और बाद में सेवन करने से अपच दूर हो जाती है, भोजन पचता है, कब्ज भी दूर होती है । अदरक, सैंधानमक और काली मिर्च की चटनी भोजन से आधा घण्टे पहले 3 दिन तक निरन्तर खाएँ अपच नहीं रहेगा ।

See also  साबुत धनिया का पानी पीने के फायदे जानकार आज ही से पीने लगेंगे धनिया पानी

19. हिचकी –

ताजे अदरक के छोटे छोटे टुकड़े करके चूसने से पुरानी एवं नई तथा लगातार उठने वाली हिचकियाँ (Hiccough) बंद हो जाती हैं । अथवा सौंठ को पीसकर दूध में उबालकर सेवन करने से भी हिचकी आना बन्द हो जाती हैं ।

20. पेशाब सम्बन्धित समस्या –

पेशाब त्याग के समय दर्द होता हो, रक्त आता हो तो सौंठ पीसकर छानकर दूध में मिश्री मिलाकर पिलाएँ ।

अदरक के नुस्खे(औषधि गुण) में अदरक रस के फायदे :

1. अदरक और पुदीना का काढ़ा देने से पसीना निकलकर ज्वर उतर जाता है ।

2. अदरक और प्याज का रस 1 – 1 तोला मिलाकर पीने से वमन होना बन्द हो जाती है ।

3. अदरक और पुदीने का रस आधा – आधा तोला लेकर उसमें 1 माशा सेंधा नमक डालकर पीने से उदरशूल में तुरंत लाभ होता है ।

4. अदरक का रस और पानी सममात्रा में मिलाकर सेवन करने से हृदय रोग मिटता है ।

5. अदरक का रस और खड़ी शक्कर मिलाकर पीने से बहुमूत्र रोग की बीमारी नष्ट हो जाती है ।

6. अदरक और गुड़ एकत्रकर उसकी पोटली बनाकर उसके रसबिंदु को नाक में डालने से आधासीसी के दर्द में लाभ होता है ।

अदरक खाने से पहले जाने इसके नुकसान और किसे नही खाना चाहिए Video देखें :

ऊपर Video में दिए गये नुकसान को ध्यान में रखकर ही अदरक का उपयोग करना चाहिए और जिन्हे कोई अन्य गंभीर बीमारी हो तो वे भी इसका प्रयोग चिकित्सक के मार्गदर्शन में ही करें।

Adrak Ke Fayde Ke Bare Me Aur Jaane…wiki

1 दिन में ज्यादा से ज्यादा कितना अदरक खा सकते है ?

अदरक का 1 दिन में 20 gm से ज्यादा सेवन करने से बचे और बहुत ज्यादा दिनों या महीनो तक लगातार सेवन न करे। ज्यादा सेवन करने से आपको कुछ समस्याओ का सामना करना पड़ सकता है।