June 17, 2024
Kele ki taseer kaisi hoti hai | kela khane ke fayde | kela khane ke nuksan | kele ke aushadhiya gun

केले(Banana) की तासीर कैसी होती है | केला खाने के फायदे, नुकसान और औषधीय गुण ?

तो चलिए जानते है की केले की तासीर कैसी होती है या क्या होती है –

केले की तासीर ठंडी होती है और यही कारण है की इसे गर्मियों में ज्यादा खाते है। इसको संस्कृत में कदली कहते है।

ठण्ड से होने वाली बीमारियों में जैसे – जुकाम, गला दुखना, आदि में इसे नहीं खाना चाहिए। यदि आप इन बीमारियों में इसका सेवन करते है तो बीमारी और ज्यादा बढ़ने की संभावना रहती है। और मधुमेह(शुगर) में भी केले को बिलकुल नहीं खाये इससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है।

केले की तासीर कैसी होती है
Banana Ki Taseer

केला बच्चे और बड़े सभी शौक से खाते है लेकिन क्या आप जानते है यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है और शरीर के लिए ऊर्जा का भी यह एक उत्तम स्तोत्र है। इसमें विटामिन, प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट, फाइबर और मिनरल्स अच्छी मात्रा में पाए जाते है।

See also  गूलर & अंजीर : अंजीर क्या होता है या गूलर क्या होता है

ज्यादा केले खाने वाले जान लें केला खाने के फायदे और नुकसान और औषधीय गुण ?

केला खाने के फायदे और नुकसान और केले के औषधीय गुण आप इस वीडियो में देख सकते है।

(Banana) Kele Ki Taseer Kaisi Hoti Hai और ?

केला खाने के फायदे

इस खाने से ह्रदय के रोगो में फायदा होता है, हड्डियाँ मजबूत होती है, पाचन तंत्र के लिए भी अच्छा होता है।

नकसीर में अर्थात नाक से खून निकलने पर इसके खाने से लाभ होता है।

पके हुए केले को दही में मिलाकर खाने से दस्त की बीमारी में फायदा होता है।

सांसों की बीमारी में भी इसके सेवन से बहुत फायदा होता है। इस रोग में भुना हुआ केला खाना चाहिये।

Banana Benefits
Kela Khane Ke Fayde

केला खाने के नुकसान

ज्यादा केले खाने से आपको पेट में कब्ज जैसी समस्या हो सकती है।

ये फल ज्यादा खाने से आपको भूख कम लग सकती है।

Kela Khane Ke Nuksan
Kela Khane Ke Nuksan

केले के औषधीय गुण

इसमें अनेको औषधि गुण पाये जाते है जैसे –

See also  पिस्ता की तासीर कैसी होती है और किस मौसम में खाना रहता है इसे सबसे अच्छा
Kela Khane Ke Aushadhiya Gun
Kela Khane Ke Aushadhiya Gun

पके केला के औषधीय गुण

केला कषाय, मधुर, शीत, गुरु, कफवर्धक होता है।

यह वातशामक, रुचिकारक, वृष्य, शुक्रल होता है।

यह दीपन, सन्तर्पण, ग्राही, संग्राही, बलकारक, स्निग्ध और तृप्तिदायक होता है।

कच्चा केला के औषधीय गुण

यह कच्चा फल मधुर, कषाय, शीतल; गुरु, स्निग्ध, बलकारक, देर से पचने वाला होता है।

यह कच्चा कदली फल क्षय शामक और वात पित्तशामक होता है।

ये हमने आपको इसकी सिर्फ सामान्य जानकारी दी है अगर आप स्वस्थ नहीं है तो आप चिकित्सक के निर्देशानुसार ही इनका सेवन करें।

तो आपने जाना केले की तासीर कैसी होती है, केला खाने के फायदे, केला खाने के नुकसान और केले के औषधीय गुण के बारे में। हम आशा करते है की आपको ये लेख पसंद आया होगा।

See also  चीकू की तासीर गर्म होती है या ठंडी - अभी जानें (Chiku)

धन्यवाद !

  • 2023 Ka Karwa Chauth Kab Hai? 2023 करवा चौथ कब है?

    करवा चौथ भारत में विवाहित जोड़ों के बीच अटूट विश्वास और प्रेम का प्रतीक है। बेहद उत्साह के साथ मनाया जाने वाला यह त्यौहार एक … Read more

  • Advancements in Oncology: Insights from Leading Cancer Centers

    The cancer treatment and research landscape has witnessed extraordinary progress over recent years. These strides have not only revolutionized patient care but have also paved … Read more

  • Revolutionary Techniques Delivered in Online Guitar Lessons

    Finding the time and resources to learn a new skill can be challenging. However, with the advent of online guitar lessons, mastering this beloved instrument … Read more