May 29, 2024
sharir ke ango ke naam sanskrit mein

शरीर के अंगो के नाम संस्कृत में पढ़िये | Sharir Ke Ango Ke Naam Sanskrit Mein | Body Parts Name

शरीर के अंगो के नाम संस्कृत में नीचे दिये जा रहे है साथ ही इन्हे हिंदी और इंग्लिश में भी दे रहे है जिससे आप ठीक प्रकार से हमारे अंगो के सभी नाम जान सके।

50 Body Parts Name : Sharir Ke Ango Ke Naam Sanskrit Mein

हम आपको 50 शरीर के अंगो के नाम संस्कृत में बता रहे है और इनके आगे इनका नाम हिंदी और इंग्लिश में लिख दिया गया है जिससे आपको समझने में आसानी हो।

जानिये शरीर के अंगो के नाम संस्कृत में – (In Hindi, English and Sanskrit)

शरीर के अंगो के नाम संस्कृत मेंशरीर के अंगो के नाम हिंदी मेंBody Parts In English
बाहुः / भुजःबांहArm
अंगुलिःउंगलीFinger
पादः / चरणःपैरFoot
पादःटांगLeg
जानुघुटनाKnee
स्कन्धःकंधाShoulder
मस्तकम् / ललाटम्माथाForehead
कपालःखोपड़ीSkull
ग्रीवाःगर्दनNeck
नासिकानाकNose
कपोलःगालCheek
चिबुकम् / हनुठोड़ीChin
कर्णःकानEar
चक्षुः / नेत्रम्आंखEye
भ्रूःभौंहEyebrow
पक्ष्मःपलकEyelid
वदनःचेहराFace
कूर्चम्दाढ़ीBeard
मस्तिष्कःदिमागBrain
केशःबालHair
शीर्षम्सिरHead
अधरम्ओंठLip
मुखम्मुंहMouth
श्मश्रुःमूँछMoustache
कनीनिकापुतलीPupil
कण्ठःगलाThroat
मणिबन्धःकलाईWrist
जिह्वाजीभTongue
करतलम्हथेलीPalm
अंगुष्ठःअंगूठेThumb
कूर्परःकोहनीElbow
हस्तःहाथHand
दन्तःदांतTooth
नखःनाखूनNail
वक्षःस्थलम् / उरःछातीChest
स्तनः / कुचःस्तनBreast
पृष्ठम्पीठBack
जठरःपेटBelly
नाभिःनाभिNavel
उदरःपेटStomach
कटिःकमरWaist
जंघा / उरूःजांघThigh
पादांगुष्ठःपैर की अंगुलीToe
ह्रदयम्दिलHeart
वृक्कागुर्दाKidney
अस्थिःहड्डीBone
रक्तम् / रूधिरम्खूनBlood
चर्मःत्वचाSkin
स्नायुःमांसपेशीMuscle
रोमःरोएँFluff
शरीर के अंगो के नाम संस्कृत में | Sharir Ke Ango Ke Naam Sanskrit Mein

तो ये हमने आपको 50 शरीर के अंगो के नाम संस्कृत में बताये है। इन्हें हिंदी और इंग्लिश में भी पढ़कर आपको ज्यादा अच्छा लगा होगा पढ़ने में वर्ना कुछ शब्दो में दिक्कत हो जाती है समझने में।

See also  Shortcut तरीका : 89, 79, 69 in Hindi Word | 69, 89, 79 को हिंदी में क्या कहते है ?

यह भी पढ़े : कैसे तेजी से बढ़ाये खून जो रहे हम हष्ट-पुष्ट

दिल को संस्कृत में क्या कहते है ?

दिल को संस्कृत में ह्रदयम् कहते है। यह हमारे शरीर का एक मुख्य अंग है जो हमारे शरीर में रक्त का संचार सुचारु रूप से बनाये रखता है।